8.3 C
New York
Thursday, April 18, 2024

Buy now

spot_img

रुख से पर्दा अब अपने हटा दो लिरिक्स | Rukh se parda ab apne hata do Lyrics Full

- Advertisement -

रुख से पर्दा अब अपने हटा दो लिरिक्स Rukh se parda ab apne hata do Lyrics Rukh se parda hata do Lyrics in Hindi Jaliyon par Nigahe Jami Hai Lyrics in English

रुख से पर्दा अब अपने हटा दो लिरिक्स

नात लिरिक्सरुख से पर्दा अब अपने हटा दो
नात शायरअदीब रायपुरी
ना’त-ख़्वाँहाफ़िज़ ताहिर क़ादरी, ओवैस रज़ा क़ादरी
पीडीऍफ़अपडेट
MP3अपडेट
विडिओयहाँ देखे
केटेगरीगौसे आजम लिरिक्स | नात लिरिक्स
रुख से पर्दा अब अपने हटा दो | Jaliyon par Nigahe Jami Hai Lyrics

Rukh se parda ab apne hata do Lyrics In Hindi

  • फ़ासलो को खुदाया मिटा दो
  • रुख से पर्दा अब अपने हटा दो
  • अपना जलवा इसीमे दिखा दो
  • जालियो पर निगाहे जमी है
  • एक मुजरिम सियाकर हु मै
  • हर खता का सज़ावार हु मै
  • मेरे चारो तरफ है अँधेरा
  • रौशनी का तलबगार हु मै
  • एक दिया ही समझकर जला दो
  • जालियो पर निगाहे जमी है
  • हर वली आपके ज़ेरे पाए
  • हर अदा मुस्तफ़ा की अदा है
  • आपने दिन जिन्दा किया है
  • डूबतो को सहारा दिया है ।
  • मेरी कश्ती किनारे लगा दो
  • जालियो पर निगाहे जमी है
  • सुन रहे है वोह फरियाद मेरी
  • खाक होगी न बर्बाद मेरी
  • मै कहीं भी मरू शाहे जिला
  • रूह पुहंचेगी बग़दाद मेरी
  • मुज को परवाज़ के पर लगा दो
  • जालियो पर निगाहे जमी है
  • सिद्दते गम से घबरा गया हु
  • ऐसे जीने से तंग आ गया हु
  • हर तरफ आपको ढूंढता हु
  • हर किसीसे यही पूछता हु
  • कोई पैगाम हो तो सुनादो
  • जालियो पर निगाहे जमी है
  • वजद मे आएगा सारा आलम
  • जब पुकारेंगे या गौसे आज़म
  • वोह निकल आएंगे जालियो से
  • और क़दमों में गिर जायेंगे हम
  • फिर कहेंगे के बिगड़ी बना दो
  • जालियो पर निगाहे जमी है
  • ग़ौसुल आज़म हो ग़ौसुल वरा हो
  • नूर हो नूरे सल्ले अला हो
  • क्या बयां आपका मर्तबा हो
  • दस्तगीर और मुश्किल कुशा हो
  • आज दीदार अपना करा दो
  • जालियो पर निगाहे जमी है
  • फ़िक्र देखो ख़यालात देखो
  • ये अक़ीदत ये जज़्बात देखो
  • मै हु क्या मेरी अवक़ात देखो
  • सामने कैसी है ज़ात देखो
  • ए अदीब अपना सर अब झुका दो
  • जालियो पर निगाहे जमी है
  • फ़ासलो को खुदाया मिटा दो

Rukh se parda ab apne hata do Lyrics In Hindi

  • Jaliyon Par Nigahen Jami Hain
  • Faaslon Ko Khudara Mita Do
  • Rukh Se Parda Hata Do
  • Jaliyon Par Nigahen Jami Hain
  • Apna Jalwa Kisi Din Dikha Do
  • Jaliyon Par Nigahen Jami Hain
  • Ghousul Aazam Ho Ghousul Wara Ho
  • Noor Ho Noor e Salle Ala Ho
  • Kya Baya.n Apka Martaba Ho
  • Dastgeer Aur Mushkil Kusha Ho
  • Aaj Deedar Apna Kara Do
  • Jaliyon Par Nigahen Jami Hain
  • Buzd Me Aayega Sara Aalam
  • Jab Pukarenge Ya Ghous e Aazam
  • Wo Nikal Aayenge Jaaliyon Se
  • Aur Qadamon Me Gir Jayenge Ham
  • Fir Kahenge Ke Bigdi Bana Do
  • Jaliyon Par Nigahen Jami Hain
  • Shiddat e Gham Se Ghabra Gaya Hun
  • Aisi Jeene Se Tung Aa Gaya Hun
  • Har Taraf Aapko Dhoondta Hun
  • Aur Ik Ik Se Ye Poochhta Hun
  • Koi Paigham Ho To Suna Do
  • Jaliyon Par Nigahen Jami Hain
  • Ek Mujrim Siyah-Kaar Hun Main
  • Har Khata Ka Saja-baar Hun Main
  • Mere Charo Taraf Hai Andhera
  • Roshani KaTalab-Gaar Hun Main
  • Ik Diya Hee Samajh Kar Jala Do
  • Jaliyon Par Nigahen Jami Hain
  • Fikr Dekho Khayalat Dekho
  • Ye Apki Aqidat Ye Jazbat Dekho
  • Mein Hun Kya Meri Aukaat Dekho
  • Aur Samne Hai Kis Ki Zaat Dekho
  • Ae Adeeb Apne Sar Ko Jhuka Do
  • Jaliyon Par Nigahen Jami Hain
  • Faaslon Ko Khudara Mita Do
  • Rukh Se Parda Hata Do
  • Jaliyon Par Nigahen Jami Hain

Related Articles

- Advertisement -spot_img

Latest Articles