4.5 C
New York
Thursday, February 29, 2024

Buy now

spot_img

ईद की नमाज का तरीका Eid Ki Namaz Ka Tarika SUNNI HINDI NEW

- Advertisement -

ईद की नमाज का तरीका Eid Ki Namaz Ka Tarika SUNNI HINDI: इस्लामिक भाइयों बहनों ईद की नमाज साल में एक बार रमजान के पुरे 30 रोजा गुजरने के बाद पढ़ी जाती है इसलिए अक्सर ईद की नमाज का तरीका भाई बहन भूल जाते है ईद की नमाज इमाम साहब ईदगाह में पढ़ाते है

ईद के दिन नमाज पढ़ने की जगह को क्या कहते हैं

ईद की नमाज पढ़ने वाली जगह को ईदगाह के नाम से जाना जाता है ईदगाह में कोई छत न होती है यह एक खुली जगह होती है जिसे ईदगाह के नाम से जाना जाता है ईद की नमाज के लिए कोई अजान नहीं दिया जाता है लेकिन मुस्लिम मुहल्लों में इस बात की खबर स्पीकर लगा कर जरुर दी जाती है कि ईद की नमाज समय यह मुक़र्रर किया गया है अगर आपको ईद की नमाज पढ़नी है ऐसे में आपको समय का पता लगाना खुद होगा

- Advertisement -

नमाज का तरीका

हर दिन अल्लाह की इबादत करने के लिए दिन में पांच वक्त मस्जिद से अजान दी जाती है जैसे – फज्र की नमाज के लिए अजान, जोहर की नमाज के लिए अजान, असर/मगरिब/ईशा की नमाज के लिए अजान लेकिन ईद की नमाज की कोई अजान नहीं दी जाती है आइये जाने आसान तरीका ईद की नमाज (Eid Ki Namaz) का तरीका

ईद की नमाज का तरीका

  1. ईद की नमाज का तरीका यूँ है कि –
  2. सबसे पहले ईद की नमाज की नियत करें
  3. नियत मैं निय्यत करता हूं दो रकात नमाज़ ईदुल फित्र (या ईदुल अज़्हा) की
  4. साथ छ ज़ाइद तक्बीरों के, वासिते अल्लाह के पीछे इस इमाम के – अल्लाहु अकबर
  5. अल्लाहु अकबर कहते समय कानों तक हाथ उठाइये
  6. फिर हाथ को नाभि के नीचे बांध लीजिये
  7. ईद उल फ़ित्र की नमाज के लिए हाथ बाँधने के बाद सबसे पहले सना पढ़े
  8. सना हिंदी में – सुबहान कल्लाहुम्म व बिहम्दिक व तबा रकस्मुक व तआला जददुक वला इलाह गैरुक
  9. सना पढने के बाद तीन बार तकबीर पढ़ना है साथ ही कानों तक हाथ उठाना है
  10. तकबीर – अल्लाहु अक्बर, अल्लाहु अक्बर, अल्लाहु अक्बर
  11. महत्वपूर्ण – जब आप तीन बार तकबीर कहेंगे तो दो बार हाथ उठाकर छोड़ देंगे
  12. लेकिन तीसरी बार हाथ उठाने के बाद नाभि के नीचे हाथ बाँध लेना है
  13. या’नी पहली तक्बीर के बाद हाथ बांधिये इस के बाद दूसरी और तीसरी तक्बीर में लटकाइये और चौथी में हाथ बांध लीजिये ।
  14. इसके बाद तअव्वुज़ और तस्मिया आहिस्ता पढ़े
  15. उसके बाद सुरह फातिहा और सूरह फ़िल (जो आपको याद हो) पढ़े
  16. इसके बाद अन्य नमाज में जिस तरह रुकूअ और सजदे में जाते है ठीक वैसे ही करें

दो रकात नमाज़: ईद की नमाज का तरीका

  1. दो रकात ईद उल फ़ित्र की नमाज की नियत आपने किया है
  2. अभी तक आपने एक रकात ईद की नमाज मुकम्मल की है
  3. पहली रकात ईद की नमाज जब मुकम्मल हो जाएँ
  4. उसके बाद खड़े हो जाएँ और सूरह फातिहा और सूरह कौसर (या जो आपको याद हो) पढ़े
  5. इसके बाद चार बार तकबीर कहनी है
  6. तीन तकबीर में हाथ उठाना और छोड़ना है
  7. चौथी तकबीर में बिना हाथ उठाये रुकू में चले जाना है
  8. इसके बाद अन्य पांच वक्त की नमाज जैसे पढ़ते है ठीक वैस ही आगे पढ़े

महत्वपूर्ण : ईद की नमाज

  1. जब ईद की नमाज मुक्कमल हो जाएँ
  2. 33 बार सुबहान अल्लाह
  3. 33 बार अल्हमदोलिल्लाह
  4. 34 बार अल्लाहु अकबर पढ़े
  5. इसके बाद इमाम साहब ईद की नमाज का खुतबा दें
  6. उसके बाद 5-6 सेकेंड के लिए बैठ जाएँ फिर दूसरा खुतबा दें
  7. इसके बाद ईद की नमाज मुकम्मल हो जाती है
  8. अंत में अल्लाह पाक से रो रो कर दुआ मांगे

नमाज के लिए याद रखने योग्य

  • नियत मैं निय्यत करता हूं दो रकात नमाज़ ईदुल फित्र (या ईदुल अज़्हा) की
  • साथ छ ज़ाइद तक्बीरों के, वासिते अल्लाह के पीछे इस इमाम के – अल्लाहु अकबर
  • तकबीर – अल्लाहु अकबर
  • सना हिंदी में – सुबहान कल्लाहुम्म व बिहम्दिक व तबा रकस्मुक व तआला जददुक वला इलाह गैरुक
  • तअव्वुज़ – अवूज़ बिल्लाहि मिनश्शइतानिर्रज
  • तस्मिया – बिस्मिल्हलामानिर्रहीम
  • सुरह फातिहा – अल्हम्दुलिल्लहि रब्बिल आलमीन. अर रहमा निर रहीम. मालिकि यौमिद्दीन. इय्याक न अबुदु व इय्याका नस्तईन. इहदिनस् सिरातल मुस्तक़ीम. सिरातल लज़ीना अन अमता अलय हिम. गैरिल मग़दूबी अलय हिम् व लद दाालीन. आमीन !
  • सूरह फ़िल – अलम तरा कैफा फाअला रब्बुका बियस हाबिल फील अलम यज़अल कै दाहुम फी तजलील वा अर्सला अलैहिम तैरन अबाबील तर्मीहिम बिही जारतिम में सिज्जील फजा अलाहुम का सिफिम माकूल
  • सूरह कौसर – इन्ना आतैना कल कौसर फसल्ली लिरब्बिका वनहर इन्ना शानियाका हुवल अब्तर

– Eid Ki Namaz Ka Tarika in HINDI

- Advertisement -

औरतें ईद की नमाज कैसे पढ़े

अक्सर यह सवाल किया जाता है औरतें ईद की नमाज कैसे पढ़े? ऐसे में बता दें ईद की नमाज जमाआत के साथ पढ़ी जाती है और औरतें (ख्वातीन) को जमाआत की नमाज अदा करने से मना है इसलिए ईद उल फ़ित्र की नमाज औरतें नहीं पढ़ सकती है

– Eid Ki Namaz Ka Tarika in HINDI SUNNI

सम्बंधित ईद की नमाज

Related Articles

- Advertisement -spot_img

Latest Articles